मुंबई । महान टेनिस खिलाड़ी रहे अमेरिका के आंद्रे अगासी आजकल शिक्षा के क्षेत्र में निवेश कर अपनी एक अधूरी इच्छा पूरी कर रहे हैं। दरअसल टेनिस के कारण अगासी केवल आठवीं तक ही पढ़ाई कर पाये थे। ऐसे में अब वह शिक्षा के क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा निवेश करना चाहते हैं। अगासी शिक्षा से जुड़े स्टार्टअप्स में लगातार निवेश कर रहे हैं। आठ ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाले अगासी ने अमेरिका में 90 चार्टर स्कूल खोलने में साल 2013 से एक अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश किया है। चार्टर स्कूलों को प्राइवेट लोग चलाते हैं। ये पब्लिक फंडिंग से चलते हैं। ऐसे कई स्कूल छात्रों से फीस भी नहीं लेते। अगासी ने कैलिफोर्निया की स्टार्टअप स्क्वेयर पांडा में भी निवेश किया है, जो साक्षरता बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित उत्पाद तैयार करती है, इससे उन छात्रों को लाभ होता है जो डिसलेक्सिया से पीड़ित हैं। अगासी ने कहा, 'मैं आठवीं से आगे पढ़ नहीं सका। मुझे टेनिस खेलना पड़ा। मेरे सामने कोई दूसरा विकल्प नहीं था। जीवन में पढ़ाई-लिखाई के मामले में जो कमी रह गई उसके कारण ही मेरी रुचि शिक्षा के क्षेत्र में है। स्क्वेयर पांडा का इंडियन बिजनस लॉन्च करने के लिए मुंबई आए अगासी ने कहा, 'मैं हमेशा ही पढ़-लिख नहीं पाने को विकल्पहीनता ही मानता हूं। इसकी वजह से मेरा खेल में भी मन नहीं लगा जबकि उस समय में नंबर एक पर था। अगासी ने कहा कि शिक्षा  आपके सामने कई विकल्पों को रखती है।' 
अगासी टर्नर-अगासी चार्टर स्कूल फसिलिटीज फंड के जरिए शेयर मार्केट में निवेश करते हैं। यह 2011 में शुरू किया गया था। अगासी को दो-तीन 'इन्वेस्टमेंट थीम्स' काफी प्रिय हैं, जिनमें एजुकेशन और स्पोर्ट्स शामिल हैं। उन्होंने कहा, 'इनमें मैं ज्यादा अग्रेसिव पोजिशन लेता हूं। इनमें मैं पैसा और समय, दोनों लगाता हूं।'