उत्तर पदेश के संतकबीर में जिला मुख्यालय खलीलाबाद में शुक्रवार को आयोजित एक न्यूज चैनल के डिबेट कार्यक्रम में सपाई आपस में ही भिड़ गए। इस दौरान जमकर कुर्सियां और लात-घूंसे चले। इसमें पार्टी के एक वरिष्ठ नेता का पैर टूट गया तो कई अन्य को भी हल्की चोटें आईं। बीच-बचाव के दौरान वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष राजेश पांडेय भी चपेट में आ गए। उनकी किसी ने नहीं सुनी तो वह वहां से निकल कर जिला कार्यालय पहुंचे, जहां उन्हें दिल का दौरा पड़ गया। कुछ ही देर में उनकी मौत हो गयी।

जूनियर हाईस्कूल खलीलाबाद परिसर में आयोजित डिबेट में सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा के नेता मौजूद रहे। डिबेट चल ही रही थी कि इसी बीच सपाइयों के दो गुट आपस में भिड़ गये। सपा जिलाध्यक्ष गौहर अली ने कहा कि राजेश पांडेय का निधन बहुत ही दु:खद है। वे पहले से ही हार्ट के मरीज थे, पेसमेकर लगा था। विवाद श्री पांडेय के निधन का कारण नहीं है।