मुंबई। देश का विदेशी मुद्रा भंडार 15 फरवरी को समाप्त सप्ताह में 15 करोड़ डॉलर की ‎वृ‎द्धि के साथ बढ़कर 398.27 अरब डॉलर हो गया। सोना और मुद्रा परिसंपत्तियों के बढऩे से विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि दर्ज की गई। भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। पिछले हफ्ते देश का मुद्राभंडार 2.11 अरब डॉलर बढ़कर 398.122 अरब डॉलर पर पहुंच गया था। रिजर्व बैंक ने कहा कि समीक्षाधीन सप्ताह में, कुल मुद्राभंडार का अहम हिस्सा यानी विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियाँ 8.89 करोड़ डॉलर बढ़कर 371.07 अरब डॉलर हो गया।
डॉलर में अभिव्यक्त किये जाने वाले विदेशी मुद्रा आस्तियां, मुद्राभंडार में रखे यूरो, पौंड और जापानी येन जैसे गैर-अमेरिकी मुद्राओं की मूल्यवृद्धि और मूल्यह्रास के प्रभावों को भी समाहित करता है।  देश का विदेशी मुद्रा भंडार 13 अप्रैल, 2018 को समाप्त सप्ताह में 426.028 अरब डॉलर के रिकॉर्ड उच्च स्तर को छू गया था लेकिन तब से इसमें कुल मिला कर काफी गिरावट दर्ज की गई। केन्द्रीय बैंक ने कहा कि समीक्षाधीन सप्ताह में आरक्षित स्वर्ण भंडार 7.82 करोड़ डॉलर बढ़कर 22.764 अरब डॉलर हो गया।  सप्ताह के दौरान अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ विशेष निकासी अधिकार 78 लाख डॉलर घटकर 1.455 अरब डॉलर रह गया। केन्द्रीय बैंक ने कहा कि इसी प्रकार से आईएमएफ में देश का मुद्राभंडार भी 91 लाख डॉलर घटकर 2.982 अरब डॉलर रह गया।