नयी दिल्ली  । विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को अमेरिकी, चीनी, सिंगापुर, बांग्लादेशी और अफगानिस्तानी विदेशमंत्रियों से बात की और उन्हें पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी प्रशक्षिण अड्डों पर तड़के किए गए हमलों के बारे में जानकारी दी। 
सरकारी सूत्रों के अनुसार अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो से फोन पर की गई बातचीत में स्वराज ने उन्हें हमले के पीछे का कारण समझाया और बताया कि खासतौर पर निशाना जेईएम का अड्डा था। सूत्रों ने बताया कि उन्होंने चीनी विदेश मंत्री वांग यी से भी बात की और उन्हें ‘एहतियात के तौर पर आत्मरक्षा में की गई असैनिक हमलों’ के बारे में जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि स्वराज ने हमले को लेकर सिंगापुर, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अपने समकक्षों से भी बात की। सूत्रों ने बताया कि इसके अलावा, विदेश सचिव ने अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस, ब्रिटेन समेत सभी अहम देशों के राजदूतों को भी जानकारी दी  है। श्रीलंका, मालदीव,अफगानिस्तान, भूटान, तुर्की और इंडोनेशिया को भी हवाई हमलों के बारे में जानकारी दी गई है।