बुलंदशहर के स्याना में एक मेाहल्ले में आई बारात में लड़की पक्ष द्वारा दिये गये दहेज से संतुष्ट न होने पर दूल्हे ने निकाह के चंद घंटों के भीतर ही दुल्हन को तलाक दे दिया। जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच हंगामा व नोकझोंक हुई। लड़की पक्ष ने दूल्हा व उसके पिता को बंधक बना लिया। गणमान्य व्यक्तियों के बीच अगले दिन मामले का निपटारा किया जा सका।

शुक्रवार की रात नगर के एक मौहल्ला निवासी युवती की बारात स्टेट हाईवे स्थित एक फॉर्म हाउस में आई। शिकारपुर से आई बारात का लड़की पक्ष ने धूमधाम से स्वागत किया। हंसी-खुशी सभी रस्में पूरी करने के बाद लड़की का निकाह पढ़ाया गया। निकाह के बाद बारात में आये कुछ हुड़दंगी शराब के नशे में हुड़दंग मचाने लगे। उधर, दूल्हे को पता चला कि लड़की पक्ष ने दहेज में उसकी इच्छानुसार गाड़ी न देकर दूसरी गाड़ी दी है। इस पर वह बिफर गया।
उसने नाराजगी जताई तो दोनों पक्षों में कहासुनी होने लगी। आरोप है कि इसी बीच लड़के पक्ष ने हुड़दंगियों के साथ मिलकर हंगामा शुरू कर दिया। काफी मान-मनौवल पर भी जब बात नहीं बनी और दूल्हे ने अपना साफा सिर से उतारकर फेंक दिया और दुल्हन को मौके पर ही तीन बार तलाक बोलकर तलाक दे दिया। इतना सुनते ही शादी की सारी खुशियां मायूसी में बदल गईं। 

मामला बिगड़ते ही बारात में आए लोग मौका देखकर चुपचाप खिसक लिए। लड़की पक्ष ने दूल्हा व उसके पिता को बंधक बना लिया। काफी गहमा-गहमी और हंगामे के बाद शनिवार दोपहर को गणमान्य लोगों और दोनों ओर के मेहमानों ने बातचीत कर मामले का निपटारा कराया। इसके बाद दूल्हे व उसके पिता को छोड़ा गया और वे बिना दुल्हन लिए घर को लौट गए। उधर, स्याना कोतवाली प्रभारी ने मामले से अनभिज्ञता जताई है।