छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाला मामले में आरोपी निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता की स्टेनो रही रेखा नायर के फॉर्म हाउस पर एसीबी और ईओडब्ल्यू की टीम ने दबिश दी है. रेखा नायर के रायपुर केलाबाड़ी स्थित फॉर्म हाउस पर एसीबी और ईओडब्ल्यू की दस सदस्यीय टीम जांच करने मंगलवार को पहुंची. टीम का नेतृत्व डीएसपी रैंक के एक अधिकारी कर रहे हैं. रेखा नायर पर आय से अधिक संपत्ति मामले में कार्रवाई की जा रही है.

बता दें कि प्रदेश में बहुचर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाले में कथित तौर पर 36 हजार करोड़ रुपये की गड़बड़ी का आरोप है. साल 2015 में सामने आये इस घोटाले में कई हाई प्रोफाइल लोगों के शामिल होने की आशंका है. प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद मामले में नए सिरे से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है. एसआईटी गठन के बाद तब ईओडब्ल्यू के प्रमुख रहे डीजी मुकेश गुप्ता को निलंबित कर दिया गया है. मामले में रेखा नायर को भी आरोपी बनाया गया है. आरोपी बनाए जाने के बाद रेखा नायर के भिलाई स्थित ठिकानों पर दबिश दी थी. अब रायपुर में कार्रवाई की जा रही है.