नई दिल्ली । किदांबी श्रीकांत ने कहा कि विश्व चैंपियनशिप और ओलिंपिक खेलों में पदक जीतने के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होने की जरूरत है। श्रीकांत ने 2017 में चार खिताब जीते लेकिन पिछले 15 महीने में उन्होंने नौ क्वॉर्टर फाइनल और दो सेमीफाइनल मैच गंवाए और इस दौरान सिर्फ एक बार कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में पहुंचने में सफल रहे। इस स्टार खिलाड़ी ने कहा कि वह छोटी चीजों में सुधार करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं और ओलिंपिक में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए लय बरकरार रखना चाहते हैं। श्रीकांत ने कहा, ‘मुझे लगता है कि पहले दौर की तुलना में कई क्वार्टर फाइनल हारना अधिक परेशान करने वाला है।’उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि कुछ खिलाड़ियों के खिलाफ मेरे प्रदर्शन में निरंतरता रही है लेकिन कुछ अन्य के खिलाफ क्वार्टर फाइनल और सेमीफाइनल में जीत दर्ज कर पाने में नाकाम रहने पर मैंने काम किया है।’ श्रीकांत ने कहा, ‘संभवत: विश्व चैंपियनशिप से पहले अगले तीन से चार महीने तक अब मैं अच्छा प्रदर्शन कर पाया। अगर मैं शारीरिक रूप से बेहतर और मानसिक रूप से अधिक मजबूत हो पाया तो मुझे लगता है कि मैं विश्व चैंपियनशिप में अच्छा कर सकता हूं।’