वॉशिंगटनः अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन ईरान के रेव्ल्यूशनरी गार्ड को विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित कर सकता है. यह किसी देश के राष्ट्रीय सशस्त्र बल के खिलाफ एक अप्रत्याशित कदम होगा. मामले की जानकारी रखने वाले अधिकारियों ने बताया कि इस संबंध में कोई घोषणा सोमवार तक हो सकती है. प्रशासन ने यह कदम ईरान के खिलाफ तथा सीरिया, लेबनान, इराक, यमन और इजराइल विरोधी मिलिशिया गुटों को उसके समर्थन के लिए एक माह से अपनी आलोचना तेज करने के बाद उठाया है. 
गौरतलब है कि अमेरिकी प्रशासन की ओर से किसी पूरी विदेशी सरकारी संस्था के खिलाफ यह पहला ऐसा कदम होगा. हालांकि गार्ड के कुछ हिस्से खास तौर पर इसके एलीट कुड्स फोर्स को अमेरिका पूर्व में निशाना बना चुका है. बता दें बीते साल अमेरिका की नेशनल इंटेलीजेंस के निदेशक डैन कोट्स ने आईआरजीसी को एक विदेशी आतंकवादी संगठन के तौर पर चिह्नित करने को लेकर आगाह करते हुए कहा था कि यह अमेरिका के लिए नुकसानदेय साबित हो सकता है और ऐसा करने से अमेरिकी सेनाओं के लिए खतरा बढ़ सकता है. (इनपुटः भाषा)