राजस्थान में चूरू जिले के सादुलपुर से छत्तीसगढ़ का रहने वाला एक लापता छात्र मिला है, जो बलौदा बाजार के भाटापारा का रहने वाला है. बता दें कि होली से 4 दिन पहले लापता हुए छात्र को समाजसेवी मनीष शर्मा ने उसके घर पहुंचा दिया है.

मनीष शर्मा के मुताबिक लापता छात्र बीते 19 अप्रैल को जोगी आश्रम के पास कचरे में से खाना खाते हुए मिला था, जिसे वे अपने घर ले आए. इसके बाद उसे खाना खिलाया और बदलने के लिए दूसरे कपड़े भी दिए.

इस दौरान जब उन्होंने छात्र से पूछताछ की तो उसने भाटापारा का निवासी होना बताया. समाजसेवी मनीष ने बताया कि बीते 20 अप्रैल को उन्होंने वहां की पुलिस से बातचीत की, तो पुलिस ने सरपंच को सूचना देने के साथ ही परिजनों को संपर्क करने के लिए समाजसेवी मनीष शर्मा का नंबर भी दिया. इसके बाद छात्र के परिजनों ने मनीष से फोन पर बातचीत की और उसी दिन राजगढ़ के लिए रवाना हो गए.

इस दौरान जब परिजन छात्र को लेने के लिए सोमवार को राजगढ़ पहुंचे, तो उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े. परिजनों ने मनीष काे धन्यवाद दिया. आपको बता दें कि पूर्व में भी मनीष कई बिछड़ों को उनके परिजनों से मिलवा चुका है.