कोरबा। प्रेम को साबित करने के लिए कई बार अग्नि परीक्षा के दौर से भी गुजरना पड़ता है। टीनएजर युवा पीढ़ी हाथों में ब्लेड चलाकर अपनी प्रेम का इजहार करते पहले भी देखे गए हैं, इससे जुदा एक मामला सामने आया है, जिसमें पति ने अपने प्यार का सबूत देने के लिए टंगिया से अपनी उंगली काट कर पत्नी को दे दी। ये पूरा मामला रजगामार चौकी क्षेत्र ग्राम औराई की है। यहां रहने वाले मुकुंद की शादी बासीनखार निवासी ज्योति से हुई है। इस दंपत्ति के दो पुत्र भी हैं। एक दिन निजी मामलों को लेकर मुकुंद ने अपनी पत्नी की बेदम पिटाई कर दी। इससे नाराज पत्नी अपने मायके बासीन खार चली गई।

उसे मनाने के लिए मुकुंद कई बार अपने ससुराल भी गया, लेकिन पत्नी ने लौटने से इंकार कर दिया।
जब ज्योति नहीं मानी तो आखिरकार मुकुंद अपनी रूठी पत्नी को मनाने के लिए लोमहर्षक फैसला लिया। उसने टांगी से अपने बाएं हाथ की छोटी उंगली को काट लिया और प्लास्टिक के डिब्बे में उंगली को रखकर 60 किलोमीटर दूर अपने ससुराल बासीनखार साइकिल से पहुंच गया।

मुकुंद की पत्नी के प्रति जुनून पहले भी रहा है। उसने शरीर के कई अंगों में गोदना से अपनी पत्नी का नाम लिखवाया है। ससुराल पहुंचने के बाद उसकी पत्नी और ससुराल के अन्य सदस्य घबरा गए और मुकुंद को लेकर रजगामार चौकी पहुंचे। पुलिस ने मुकुंद को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां मुकुंद का प्रथमिक इलाज कर चिकित्सकों ने उसे घर भेज दिया।