चंडीगढ़: लोकसभा चुनाव 2019 की सरगर्मियां अब पंजाब में जोर पकड़ रही हैं. एक्शन हीरो एवं बीजेपी प्रत्याशी सनी देओल ने सोमवार को गुरदासपुर लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया. देओल ने नामांकन दाखिल करने से पहले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका. नीली पगड़ी एवं नीली कमीज पहने 62 वर्षीय देओल ने स्वर्ण मंदिर के गर्भगृह में अरदास की. साथ ही उन्होंने दुर्गियाना मंदिर में भी पूजा-अर्चना की. इस दौरान उनके भाई एवं अभिनेता बॉबी देओल उनके साथ मौजूद रहे. इसके अलावा प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष एवं राज्यसभा सदस्य श्वेत मलिक, हरियाणा के वित्त मंत्री एवं पंजाब में पार्टी के चुनाव प्रभारी कैप्टन अभिमन्यु और अकाली नेता गुरबचन सिंह बाबेहली भी इस दौरान उपस्थित रहे.

उन्होंने मतदाताओं को फिल्म ‘गदर’ में निभाए अपने ऐतिहासिक पात्र की याद दिलाने के साथ ही उन्होंने अपनी एक अन्य फिल्म के डायलॉग “ढाई किलो का हाथ” का भी जिक्र किया. गुरदासपुर में की गई रैली में बॉलीवुड अभिनेता ने चार मिनट का एक छोटा सा भाषण दिया जिसमें उन्होंने खुद को एक 'देशभक्त' बताया जिसे राजनीति की ज्यादा समझ नहीं है. इस रैली में केंद्रीय मंत्री वी के सिंह, जितेंद्र सिंह एवं मंत्री विजय सांपला शामिल हुए. 

उन्होंने पंजाबी में भीड़ को “मेरे गुरदासपुर वालों, सत श्री अकाल” कह कर संबोधित किया. उन्होंने 1993 में आई फिल्म “दामिनी” के अपने डायलॉग को याद करते हुए कहा, "एह ढाई किलो दा हथ जे किसी ते पेंदा है, तां ओ उठदा नहीं, उठ जांदा है." देओल ने कहा कि उन्हें लोगों से ताकत मिलती है.

नामांकन दाखिल करने से पहले यहां एक बैठक में एक समर्थक ने उन्हें हैंडपंप भेंट किया जो फिल्म ‘गदर’ के एक दृश्य की याद दिलाता है जिसमें देओल ने जमीन से इसी तरह का हैंडपंप उखाड़ा था. भाषण खत्म करने से पहले देओल ने गदर फिल्म का एक और संवाद दोहराया, “हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, जिंदाबाद है, जिंदाबाद रहेगा.”  

उन्होंने माना कि वह राजनीति में नौसिखिए हैं। उन्होंने कहा, "देखिए, मैं राजनीति के बारे में ज्यादा नहीं जानता लेकिन मैं देशभक्त हूं."  देओल ने कहा, "मैं यहां आपसे संपर्क करने आया हूं क्योंकि मैं चाहता हूं कि हमारा पंजाब एवं हमारा देश नयी ऊंचाइंयां छुए." उन्होंने कहा, "आप सब मेरे साथ आइए और हम साथ लड़ कर इस जंग को जीतेंगे." 
 

ट्वीट पर लिखा, 'गुरुदासपुर को सलाम' 
सनी देओल ने नामांकन दाखिल करने से पहले अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, "गुरुदासपुर को सलाम." उनके पिता अभिनेता धर्मेंद्र ने ट्वीट कर लोगों से अपने बेटे सनी देओल की जीत के लिए समर्थन मांगा. धर्मेंद्र ने ट्वीट किया, "हमें आपका साथ चाहिए...हमें समर्थन दें... यह आपकी जीत होगी. यह (जीत) मेरे पंजाब के भाई-बहनों की जीत होगी. यह भारत के खूबसूरत हिस्से गुरदासपुर की जीत होगी."   
हेमा मालिनी बोलीं - सनी ने बहुत अच्छा निर्णय लिया 
उधर, मथुरा से चुनाव लड़ रही हेमा मालिनी ने सनी देओल के चुनाव लड़ने के निर्णय पर खुशी जताई. उन्होंने कहा, "सनी देओल ने गुरुदासपुर से चुनाव लड़ने का बहुत अच्छा निर्णय लिया है. उनके पास अच्छी संख्या में प्रशंसक हैं." बीजेपी नेता ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, "कांग्रेस ने लोगों के विकास के लिए कुछ नहीं किया." 
गुरुदासपुर में त्रिकोणीय संघर्ष
देओल का मुकाबला मौजूदा सांसद एवं कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़, आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार पीटर मसीह और पंजाब डेमोक्रेटिक एलायंस (पीडीए) के लालचंद से है. वर्तमान में गुरदासपुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व कांग्रेस के सांसद सुनील जाखड़ कर रहे हैं जिन्होंने 2017 के उपचुनाव में यहां से जीत हासिल की थी. पिछले साल अप्रैल में विनोद खन्ना के निधन के बाद यह उपचुनाव जरूरी हो गया था. दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना ने इस सीट का चार बार - 1998, 1999, 2004 और 2014 में प्रतिनिधित्व किया. जाखड़ ने बीजेपी प्रत्याशी स्वर्ण सलारिया को 1,93, 219 मतों के भारी अंतर से हराया था.