अहमदाबाद | गुजरात में गर्मी कड़े तेवर दिखा रही है और राज्य के ज्यादातर बांध की पेंदी दिखने लगी है| गुजरात के 204 बांधों में फिलहाल 33 फीसदी जलराशि उपलब्ध है| राज्य के 204 में से 174 बांध में 25 प्रतिशत से भी कम पानी बचा है| राज्य में मंडलवार बात करें तो कच्छ के 20 जलाशयों में केवल 13.73 प्रतिशत पानी शेष है| सौराष्ट्र के 138 जलाशयों में 11.32 फीसदी ही पानी बचा है| दक्षिण गुजरात के 13 बांध में 24.19 प्रतिशत, उत्तर गुजरात के 15 जलाशयों में 16.60 प्रतिशत और मध्य गुजरात के 17 बांध में 48.11 प्रतिशत पानी शेष है| गुजरात की जीवनदायिनी सरदार सरोवर नर्मदा बांध में 50 प्रतिशत से अधिक जलराशि संग्रहित है| मानसून के आने में करीब डेढ़ महीने का समय है और उससे पहले गुजरात में जल संकट गहराने की संभावना है| गुजरात के सौराष्ट्र और उत्तर गुजरात में स्थिति गंभीर हो सकती है| लेकिन मध्य गुजरात में अन्य मंडलों के मुकाबले बेहतर स्थिति कही जा सकती है|