नई दिल्ली । मुंबई इंडियंस की खिताबी जीत में अहम भूमिका निभाने वाले कायरन पोलार्ड पर अंपायरों के फैसले का विरोध करने के लिए मैच फीस का 25 फीसदी जुर्माना लगाया गया है। पोलार्ड पर यह जुर्माना आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने लगाया है। पोलार्ड इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की आचार संहिता के तहत लेवल-1 (अपराध 2.8) के दोषी पाए गए। आईपीएल के अनुसार पोलार्ड ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। इसलिए ज्यादा सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ी। पोलार्ड ने इस मैच में केवल 25 गेंदों में ही 3 चौके और 3 छक्के लगाते हुए नाबाद 41 रन बनाये थे। इस मैच में बल्लेबाजी के दौरान अंपायर के लगातार दो गेंदों को वाइड नहीं दिये जाने से नाराज पोला्र्ड ने अपना बल्ला हवा में उछाल दिया। इसके बाद अगली गेंद के लिए पोलार्ड तीनों स्टंप्स पीछे छोड़ पिच के कोने पर बल्लेबाजी करने पहुंच गए। वहीं गेंदबाज डेवेन ब्रावो यह देखकर गेंद फेंकने से रुक गए। इसके बाद अंपायर्स ने पोलार्ड को समझाया कि वह ऐसा नहीं कर सकते जबकि वह अंपायरों के फैसले का विरोध करने लगे। इसी कारण उनपर आचारसंहित उल्लंघन का मामला बना है। पोलार्ड को 2015 में भी अंपायर्स ने मैदान पर शांत रहने की सलाह दी थी।