मुंबई: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने ‘सिऐट क्रिकेट रेटिंग  (सीसीआर) इंटरनेशनल’ अवॉर्ड 2019 में साल के सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और बल्लेबाज का खिताब अपने नाम किया. हालांकि सोमवार को यहां हुए शानदार कार्यक्रम में भारतीय कप्तान अपनी मौजूदगी दर्ज नहीं करा पाए. अपने समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक कोहली 30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रहे विश्व कप में भारत की अगुआई करेंगे.

जसप्रीत बुमराह
तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को साल के सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय गेंदबाज के खिताब से नवाजा गया. सिऐट ने अफगानिस्तान के लैग स्पिनर राशिद खान को बेहतरीन गेंदबाजी एवं ऑस्ट्रेलियाई  बल्लेबाज एरॉन फिंच को टी20 में उनके उम्दा प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया.

जूनियर क्रिकेटर
युवा खिलाड़ी यशस्वी जयसवाल को साल का सर्वश्रेष्ठ जूनियर क्रिकेटर जबकि कुलदीप यादव को बेहतरीन प्रदर्शन का पुरस्कार मिला. आशुतोष अमन को साल के सर्वश्रेष्ठ घरेलू क्रिकेटर के पुरस्कार से सम्मानित किया गया. भारत को 1983 के विश्व कप में मिली जीत में अहम भूमिका निभाने वाले दिग्गज खिलाड़ी मोहिंदर अमरनाथ को ‘सीसीआर इंटरनेशनल लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया गया.

क्रिकेट वर्ल्‍ड कप
इस बीच भारतीय टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे को यकीन है कि विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में अच्छा प्रदर्शन करेगी. उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के मददगार हालात में ‘अनुभवी’ गेंदबाजी आक्रमण भारत (Team India) को मजबूत स्थिति में पहुंचा सकता है. ब्रिटेन में 30 मई से शुरू हो रहा टूर्नामेंट नए राउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला जाएगा. अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने कहा कि शुरुआती लय और निरंतरता टूर्नामेंट में भारत की सफलता में अहम भूमिका निभाएगी. 

भारत की विश्व कप टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे रहाणे ने कहा, ‘कुल मिलाकर टीम काफी मजबूत है. इस बार विश्व कप (ICC Cricket World Cup 2019) नए प्रारूप में खेला जाएगा. हम नौ लीग मैच खेलेंगे. इसलिए लय और निरंतरता अहम होगी.’ रहाणे ने कहा, ‘अगर आप अच्छी शुरुआत करते हो तो आपको पूरे टूर्नामेंट के दौरान प्रदर्शन में निरंतरता रखनी होती है. आईसीसी टूर्नामेंट (ICC World Cup) में कोई भी टीम कभी भी लय हासिल कर सकती है. इसलिए हम किसी टीम को हल्के में नहीं ले सकते.’ 

मुंबई के इस बल्लेबाज ने कहा कि भारत का गेंदबाजी आक्रमण इंग्लैंड के मददगार हालात में टीम का पलड़ा भारी करता है. उन्होंने कहा, ‘हमारा आक्रमण काफी अनुभवी है. अच्छी चीज यह है कि हमारी टीम में शामिल सभी गेंदबाज विकेट चटकाने वाले हैं. जिस टीम में विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज होते हैं, उसके मौके बढ़ जाते हैं. हमारे पास ऐसे गेंदबाज हैं जो किसी भी हालात में विकेट हासिल कर सकते हैं.’