भोपाल। राजधानी के निशातपुरा इलाके में बलात्कार का एक अजीब मामला सामने आया है। यहां एक युवती को आठ माह का गर्भ था, लेकिन बच्चे की गर्भ में मौत होने के कारण उसका आपरेशन करना था, जो पिता की अनुमति के बिना नहीं हो सकता था। तब पीडिता ने बताया कि उसे नहीं पता कैसे गर्भवती हो गई। साथ ही उसने अपने साथ रेप करने वाले आरोपी के बार में भी कोई भी जानकारी न होने की बात पुलिस को कही। थाना पुलिस ने फिलहाल अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार निशातपुरा थाना इलाके में स्थित बृज कालोनी में रहने वाली आठ माह की गर्भवदी युवती को उसके परिवार वाले इलाज के लिए अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उसे हमीदिया अस्पताल भेजा गया। डाक्टरो ने चेकअप के बाद गर्भ में बच्चे की मौत हो जाने पर उसने आपरेशन की बात कही। इसके साथ ही डाक्टरों ने कहा कि आपरेशन के लिए उन्हें युवती के पिता की अनुमति चाहिए। पिता की अनुमति की बात सुनते ही युवती और उसके परिजनों ने बताया कि वो अविवाहित है। उसके डाक्टरों द्वारा इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई। अस्पताल पहुंची पुलिस टीम को युवती ने बताया कि उसे नहीं पता वो कैसे गर्भवती हो गई, साथ ही उसने यह भी कहा कि उसे अपने साथ बलात्कार किये जाने की भी कोई जानकारी नहीं है। इतना ही नहीं युवती के परिजनों ने भी पुलिस से कहा कि उनकी बेटी को इसके बारे में कुछ पता नहीं और पुलिस उनकी बेटी को परेशान  नहीं करे। बाद में डाक्टरों ने आपरेशन कर आठ माह के मृत भूण को बाहर निकाला। वहीं पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि युवती अभी 18 साल की है। ऐसे में आशंका है कि उसे नाबालिग रहते हवस का शिकार बनाया गया है। वहीं पुलिस को यह भी आशंका है कि वारदात को किसी नजदीकी रिश्तेदार या परिवार के करीबी ने अंजाम दिया है, जिसके कारण पीडित परिवार इसको दबाने का प्रयास कर रहा है। फिलहाल पुलिस मामला दर्ज कर आगे की छानबीन में जुटी है।