कोलकाता । प. बंगाल में हुई हिंसा से सियासी माहौल अचानक गरमा गया है। हिंसा के लिए भाजपा और तृणमूल एक-दूसरे को दोषी ठहराने में जुटे हैं। इस बीच, तमाम विपक्षी दल इस मसले पर प. बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को समर्थन देते हुए चुनाव आयोग और भाजपा पर हमलावर हो रहे हैं।  सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव आयोग ने अलोकतांत्रिक फैसला किया है। भाजपा हार के डर से बंगाल में अराजकता फैला रही है। आंध्रप्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू बोले पहले भाजपा ने सीबीआई, आईटी और ईडी से बंगाल की सरकार गिराने की कोशिश की, अब सीधे हिंसा पर उतर आई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवालने कहा कि इसी विचारधारा ने गांधी की हत्या की। मोदी-शाह की इस हिंसा का उचित उत्तर बंगाल के लोग देंगे। माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि चुनाव आयोग ने रात 10 बजे प्रचार क्यों रोकने को कहा। क्या, पीएम नरेंद्र मोदी को रैली करने देने के लिए?