अगर आज कहीं नौकरी के लिए जा रहे हैं तो अपने बायेडाटा पर ध्यान दें क्योंकि इसी को देखकर नियोक्ता आपके बारे में अपनी एक राय बनाता है। इसलिए नौकरी चाहिए तो सीवी को गंभीरता से लें। एक नियोक्ता के लिए बायोडाटा आवेदनकर्ता की पूरी पहचान होता है और उसी के आधार पर वो नियुक्ति की प्रक्रिया को भी आगे बढ़ाता है, पर लोग अकसर बायोडाटा में कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जिसकी वजह से योग्य होने के बावजूद उन्हें कई बार नौकरी नहीं मिलती है। इसलिए जब भी बायोडाटा बनाए इन इस प्रकार की भूल न करें।  
ध्यान रहे जितना अहम बायोडाटा होता है, उतना ही जरूरी लिखावट और शैली भी होती है। इसमें अलग-अलग तरह के फॉन्ट का इस्तेमाल करने से नियोक्ता को उसे पढ़ने में दिक्कत हो सकती है। इसके अलावा सीवी में कभी-कभी अलग-अलग तरह के रंगों का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए। इससे नियोक्ता पर आपका प्रभाव खराब पड़ता है.
ज्यादा फोन नंबर न दें 
बायोडाटा में एक से ज्यादा फोन नंबर देना व्यवहारिक नहीं माना जाता। आप जितने ज्यादा फोन नंबर देंगे आपके अहम संदेश को मिस करने के की आशंका भी बढ़ जाएगी। इसलिए बायोडाटा में हमेशा एक ही नंबर दें और इस संशय को दूर ही रखें। बायोडाटा में अपना मोबाइल नंबर देना सबसे ठीक रहता है, ताकि आपकी जॉब को लेकर जो भी लेटेस्ट अपडेट हो जल्द से जल्द मिल सके.
स्पेलिंग मिस्टेक न करें 
बायोडाटा में अगर आप स्पैलिंग मिस्टेक करते हैं तो जॉब मिलना संभव नहीं है। इससे नियोक्ता पर आपकी छवि एक गैरजिम्मेदार व्यक्ति की बनती है। साथ ही ये आपके लिखने की क्षमता पर भी सवाल खड़े करता है। इसलिए जब भी बायोडाटा बनाए तो उसमें स्पैलिंग को सही प्रकार से देख लें। 
कितना बड़ा होना चाहिए बायोडाटा
बायोडाटा बनाने की प्रक्रिया में उसकी लंबाई एक सबसे अहम फैक्टर होता है। जहां एक तरफ आपको सीवी में अपने हर एक अनुभव के बारे में बताना जरूरी होता है। वहीं दूसरी ओर उसकी लंबाई भी छोटी रखनी अतिआवश्यक होती है। जो बायोडाटा ज्यादा बड़े नहीं होते हैं उनके अवसर भी ज्यादा होते हैं, पर इसे छोटा करने के चक्कर में कभी भी अपनी किसी अहम बात को न छोड़ें। 
जॉब से जुड़ी उपलब्धियों के बारे में ही बतायें 
नियोक्ता उन उपलब्धियों के बारे में कभी भी जानना नहीं चाहेंगे, जिनका आपकी जॉब से दूर-दूर तक कोई नाता न हो। इसलिए बायोडाटा में हमेशा अपने जॉब से जुड़ी उपलब्धियों के बारे में बताएं। ऐसा करने से आपका सीवी छोटा और प्रभावी रहेगा।