नई दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें याद करते हुए कहा कि वह अपने पिता की कमी हमेशा महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पिता एक नेक, दयालु एवं स्नेह करने वाले व्यक्ति थे। गांधी ने ट्वीट कर कहा कि मेरे पिता ने मुझे सभी लोगों से प्रेम करने और सभी को सम्मान देने की शिक्षा दी। उन्होंने मुझे सिखाया कि कभी घृणा नहीं करना। मैं उनकी कमी बहुत महसूस करता हूं। उनकी पुण्यतिथि पर मैं अपने पिता को स्नेह और कृतज्ञता से याद करता हूं। राहुल गांधी की बहन एवं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने हरिवंश राय बच्चन की कविता ''अग्निपथ..." का एक अंश और अपने पिता की तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया  कि आप हमेशा मेरे हीरो रहेंगे। गौरतलब है कि 21 मई, 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरूंबुदूर में एक विस्फोट में राजीव गांधी की मौत हो गयी थी।इसके पूर्व मंगलवार सुबह, राहुल और प्रियंका ने मां सोनिया गांधी के साथ दिल्ली में पूर्व प्रधानमंत्री को उनके स्मारक वीर भूमि पर जाकर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उनके साथ पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल रहे। राजीव गांधी ने 1984 में अपनी मां इंदिरा गांध की हत्या के बाद भारत के छठे प्रधानमंत्री के रूप में 40 साल की उम्र में शपथ ली थी। इसके साथ ही वे देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री बन गए। 21मई, 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरूंबुदूर में एक विस्फोट में राजीव गांधी की हत्या कर दी गई। उनकी पुण्यतिथि को आतंकवाद विरोधी दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।