जिम्‍बाब्‍वे के पूर्व क्रिकेटर हेनरी ओलंगा आजकल ऑस्‍ट्रेलिया में गाना गाकर जीवन बिता रहे हैं। यहां ओलंगा एक रियलिटी सिंगिग शो 'द वॉइस लाइव' में शामिल हुए और उन्‍होंने अपने गाने से शो के  जज, दर्शकों और सोशल मीडिया को भी मंत्रमुग्‍ध कर दिया। कई दिग्‍गज क्रिकेट सितारों ने ओलंगा के गाने की तारीफ की और ट्वीट किए।  ओलंगा ने 2003 विश्व कप के बाद से ही जिम्‍बाब्‍वे छोड़ दिया था। इसके बाद से ही वह अपने घर से दूर रहने को मजबूर है। 
ओलंगा ने कहा, 'यह लंबी यात्रा रही। मुझे रिटायर हुए 15 साल हो चुके हैं और अब नए रास्‍ते के जरिए मैं खुद को तलाश रहा हूं। इस दौरान में इंग्‍लैंड में घूमता रहा और पिछले कुछ सालों से ऑस्‍ट्रेलिया में हूं। मैं पहले भी मंच पर गा चुका हूं.'
ओलंगा ने 2003 क्रिकेट विश्व कप के दौरान जिम्‍बाब्‍वे में हो रही राजनीतिक घटनाओं का विरोध किया था। उन्‍होंने जिम्‍बाब्‍वे के राष्‍ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे के विरोध में बांह पर काली पट्टी बांधी थी। तब उनके साथ एंडी फ्लॉवर भी थे। इस विरोध के बारे में जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट यूनियन ने दोनों को धमकाया भी था पर दोनों पीछे नहीं हटे। इस टूर्नामेंट में एंडी फ्लॉवर ने जबरदस्‍त बल्‍लेबाजी की थी पर इसके बाद भी उन्‍हें जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट टीम से बाहर कर दिया गया था। 
वहीं ओलंगा पर राजद्रोह का मामला लगाया गया पर जिम्‍बाब्‍वे के सुपर सिक्‍स मैच दक्षिण अफ्रीका में थे और वहीं से वह बचकर भाग गए  हालांकि  इस टूर्नामेंट के बाद उनका क्रिकेट करियर खत्‍म हो गया और उन्‍हें जिम्‍बाब्‍वे छोड़ना पड़ा था. उन्‍होंने ब्रिटेन में शरण मांगी थी। ओलंगा ने 1999 के विश्व कप के दौरान 5 गेंद के अंदर 3 रन लेकर भारतीय टीम की हार में अहम भूमिका निभाई थी।