जर्नलिज्म के फील्ड में केरियर बनाने का सपना रखने वालों के लिए अवसर सिर्फ प्रिंट या टीवी जर्नलिज्म तक सीमित नहीं हैं। आज प्रिंट, टीवी, रेडियो के अलावा डिजिटल जर्नलिज्म की भी विशेष मांग है। जर्नलिज्म से जुड़े किसी भी फील्ड में आने के इच्छुक लोगों के लिए देश के कई संस्थानों में कोर्स कराए जाते हैं। कई संस्थान कैंपस प्लेसमेंट भी देते हैं। यदि आप भी इस क्षेत्र में आना चाहते हैं, तो इससे जुड़े कोर्सेज, संस्थानों और अवसरों के बारे में जानकारी हासिल करें। जर्नलिज्म की विभिन्न विधाओं के लिए देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में विशेष कोर्स भी संचालित किए जाते हैं। ये कोर्स काफी उपयोगी रहते हैं।
क्या है योग्यता
जर्नलिज्म कोर्सेज ग्रेजुएशन स्तर पर भी मौजूद हैं और पीजी स्तर पर भी। ग्रेजुएशन लेवल के कोर्सेज में प्रवेश के लिए आवेदक का बारहवीं पास होना जरूरी है, जबकि पीजी डिग्री या पीजी डिप्लोमा क कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदक का ग्रेजुएट होना जरूरी है। दोनों ही लेवल पर स्ट्रीम संबंधी कोई अनिवार्यता नहीं रखी गई है। पीजी कोर्सेज में प्रवेश एंट्रेंस के आधार पर दिए जाते हैं। इनके बाद आवेदकों का साक्षात्कार भी लिया जाता है। उल्लेखनीय है कि इन परीक्षाओं में उनकी जनरल अवेयरनेस, जर्नलिस्टिक एप्टीटयूड और राइटिंग स्किल्स की परीक्षा ली जाती है।
प्रमुख संस्थान
जर्नलिज्म फील्ड से जुड़े कोर्स करवाने के लिए आज जो संस्थान विशेष पहचान रखते हैं, उनके नाम इस प्रकार हैं-
इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन (आईआईएमसी), नई दिल्ली
एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म, चेन्नई
माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन, भोपाल, नोएडा
देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी, इंदौर
दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
आईपी यूनिवर्सिटी दिल्ली
कहां हैं अवसर 
सरकारी और गैरसरकारी क्षेत्र में जनसंपर्क विभाग 
न्यूज एजेंसीज
अखबार 
टीवी चैनल ।