प्रयागराज ।शहर के  विकास कार्यों तथा जनसुविधाओं से जुड़े मुद्दों पर कमिश्नर, प्रयागराज ने सख्त रवैया अपनाते हुए प्रशासनिक मशीनरी को सतर्क करते एवं रफ्तार देते हुए आगाह किया कि कुम्भ मेला एवं चुनाव के बाद विकासपरक गतिविधियों को एक माह के भीतर अपेक्षित स्तर पर ला दिया जाय। आज मण्डलायुक्त कार्यालय के गांधी सभागार में मण्डलीय समीक्षा के दौरान शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने मण्डल के सभी जनपदों में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति का विवरण खंगाला ।  शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने जहरीली शराब और अवैध शराब पर सभी जिलों के जिलाधिकारियों और एस०एस०पी० को कहा कि किसी भी दशा में अवैध शराब की बिक्री नहीं होनी चाहिए।
शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने विद्युत आपूर्ति एवं ट्रांसफार्मरों की उपलब्धता का ब्यौरा लिया तथा यह निर्देश दिये कि विद्युत आपूर्ति लगातार सुनिश्चित रखने में तत्परता बरती जाये। उन्होंने साथ-साथ विद्युत राजस्व की वसूली तेज करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को कड़े निर्देश भी दिये। उन्होंने कहा कि बड़े बकायेदारों को लक्ष्य किया जाये तथा कड़ाई के साथ वसूली का प्रारम्भ वहीं से किया जाये। मण्डलायुक्त ने कहा कि आवश्यकतानुसार बकाया वसूली से सम्बन्धित आ०सी० ३० जून तक जारी करना सुनिश्चित कर लिया जाये अन्यथा सम्बन्धित के विरूद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि स्तर तक की कार्रवाई की जायेंगी। समीक्षा बैठक में शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रगति खंगाली तथा सभी जिलाधिकारियों एवं मुख्य विकास अधिकारियों को यह निर्देश दिये कि प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थिंयों का चयन करते समय यह भी देख लिया जाये कि जिनके पास घर नहीं है, उन्हें आवासीय पट्टा दिया गया है, या नहीं।  इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी प्रयागराज द्वारा भी यह सुझाव दिया गया कि लाभार्थिंयों की सूची बनाते समय ही उनके लिए भूमि की उपलब्धता भी सुनिश्चित कर ली जाये।  मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने  सभी जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि कुम्भ में लगी ४० हजार से अधीक एल०ई०डी० लाईटें एवं अन्य सामग्री आवश्यकतानुसार मण्डल के जनपदों में मार्ग प्रकाश एवं अन्य जरूरतों के लिए वितरित कराया जाना शीघ्र सुनिश्चित किया जाय।  उन्होंने कहा कि यह व्यवस्था पूर्व निर्धारित है। अतः सभी जिलाधिकारी इस हेतु अपनी आवश्यकता का निर्धारण को तत्काल सुचित करें।
               शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने सभी जिलाधिकारियों से कहा कि जन कल्याणकारी योजनाओं से सम्बन्धित विषयों की जानकारी आम आदमी को सुलभ कराने के लिए लाभार्थी परक योजनाओं का एक हैण्डबिल एवं पैम्पलेट सभी मुख्य विकास अधिकारी प्रकाशित करा लें तथा तहसील एवं ब्लाकस्तरीय कार्यक्रमों में उसका वितरण सुनिश्चित करायें। उन्होंने एस०एस०पी० को कहा कि प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने की कोई भी सहायता नगर निगम को चाहिए तो तत्काल उनकी मदद करें। इसमें हिला-हवाली न करे। 
शहर के मण्डलायुक्त डॉ० आशीष कुमार गोयल ने कहा  मुख्यमंत्री के आदेशानुसार प्लास्टिक पर सख्ती से प्रतिबंध लगाया जाये ।  जो दूध की डेरियों के कारण शहर में परेशानी होती है,।  उससे निजात शहरवासियों को निजात  दिलाया जाये। इसमें भी नगर निगम की मदद पुलिस को करने का निर्देश जारी किया। इसी के साथ ही बैठक के दौरान अतिक्रमण को जिलाधिकारी और पुलिस अधिकारी आपस में बैठकर हर जगह की एक अलग-अलग मीटिंग करके उसका हल निकालने और देखे कि दुबारा अतिक्रमण न होने पाये। अतिक्रमण पर कठोर कार्यवाही करें और रेगुलर करें एवं सभी जिलों में टै्रफिक व्यवस्था दुरूस्त करने के लिए कठोरता से टै्रफिक नियमों का पालन  कराना सुनिश्चित करें।