बस्ती ।  जवाहर नवोदय विद्यालय एल्मुनाई एसोसिएशन की ओर से शनिवार को पं. अटल बिहारी बाजपेई आडिटोरियम में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द कुमार पाण्डेय ने दो दिवसीय रोजगार केन्द्रित कार्यशाला का उद्घाटन किया।
उद्घाटन सत्र को सम्बोधित करते हुये सी.डी.ओ. अरविन्द कुमार ने कहा कि स्वरोजगार के द्वारा लोग स्वयं सफल होने के साथ ही अन्य लोगों को भी रोजगार दे सकते हैं। कहा कि नौकरियों का दायरा सीमित है जबकि उद्यमी बन जाने पर    उपलब्धियों का बड़ा आकाश है। उन्होने स्वयं सहायता समूहों से भी अपेक्षा किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र में उद्यमी बनकर परिवार, समाज और देश के लिये उदाहरण बने।
कार्यशाला में आई.टी.आई. के प्राचार्य वीरेन्द्र बहादुर सिंह ने कहा कि देश में दक्ष कुशल लोगों की आवश्यकता है। किसी भी क्षेत्र में समुचित प्रशिक्षण और दक्षता के बाद ही उपलब्धियां मिलती है। कौशल विकास के क्षेत्र में विस्तार से चर्चा करते हुये कहा कि स्वरोजगार में अपार संभावनायें हैं। विशिष्ट अतिथि उद्यमी रामधन ने युवाओं का आवाहन किया कि वे कठिनाईयों से डरे नहीं और बेहतर शुरूआत करें। उद्यम के क्षेत्र में अपार संभावनायें उनका इंतजार कर रही है। 
इसके पूर्व  एसोसिएशन अध्यक्ष इं. राजबहादुर निषाद ने कार्यशाला में आये विशेषज्ञों, अतिथियों का स्वागत किया। बताया कि कार्यशाला के दूसरे दिन सिविल सर्विसेज की तैयारी पर टी.एन. कौैशल, इंजीनियरिंग के क्षेत्र में शेर बहादुर सिंह, चिकित्सा सेवा के क्षेत्र में डा. अरूण पाण्डेय, डा. पंकज सिंह प्रतियोगी परीक्षा क्षेत्र में सुदीप चतुर्वेदी, उद्यम क्षेत्र में सीताराम नरोलिया आदि का व्याख्यान होगा। 
आस्था त्रिपाठी, खुशी श्रीवास्तव, जतिन मिश्र द्वारा प्रस्तुत मां सरस्वती की वंदना, स्वागत गीत से आरम्भ कार्यशाला में अनेक जनपदों के लोगों ने हिस्सा लिया। 
कार्यशाला के प्रथम दिन रवि कान्त, मनोज गौतम, विजय वर्मा, देवेन्द्र मौर्य, विवेक वर्मा, राम विलास, अम्बुज पाण्डेय, नूर मोहम्मद, वासदेव,  नवनीत, अरूण पाठक, वृजेश पासवान, देशव्रत राय,  नीतेश, रूपम राय, आनन्द मणि त्रिपाठी, मनोज स्वतंत्र, अशोक, पवित्र के साथ ही बस्ती, संतकबीर नगर, सिद्धार्थनगर, फैजाबाद आदि जनपदों के अनेक लोगों ने हिस्सा लिया।