नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव (LokSabha Election) में भारी बहुमत से जीत हासिल करने के बाद भाजपा नीत एनडीए (NDA) फिर एकबार केंद्र की सत्ता पर काबिज होे गई है। लोकसभा के बाद अब राज्यसभा (Rajya Sabha) से भी एनडीए के लिए अच्छी खबर आ रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक अगले साल तक एनडीए का राज्यसभा में बहुमत के आंकड़े को पार कर देगी।

एक स्वतंत्र फर्म ने पूर्वानुमान जाहिर किया है कि केंद्र में भाजपा नीत एनडीए का अगले साल तक राज्यसभा में बहुमत हो जाएगा। दरअसल, उच्च सदन में बहुमत मोदी सरकार के लिए बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि उसके कई अहम विधेयक बहुमत के अभाव में अटके पड़े हैं। किसी भी विधेयक को पारित कराने के संसद के दोनों सदनों लोकसभा व राज्यसभा में बहुमत जरूरी है।

 भारतीय संसद का रिकॉर्ड रखने वाली संस्था पीआरएस लेजिस्लेटिव रिसर्च के अनुसार अगले साल तक भाजपा की दस सीटें बढंंने का अनुमान है, जिसके बाद भाजपा की संख्या बढकर 83 हो जाएंगी। इस तरह भाजपा नीत एनडीए की 107 सीटें हो सकती हैं। यह संख्या उसकी मौजूदा संख्या से सात ज्यादा और 243 सदस्यीय राज्यसभा में बहुमत से मात्र 15 कम रह जाएगी। एनडीए की सदस्य संख्या मुख्य रूप से उप्र से बढेगी, जहां पार्टी ने 2017 के विधानसभा चुनाव में ब़़डी जीत हासिल की थी।