हिसार । पूर्व क्रिकेटर यूसुफ़ पठान ने यहां क्रिकेट एकेडमी ऑफ पठान्स को शुरु किया है। इस अवसर पर यूसुफ़ ने कहा कि टीम इंडिया अपने शानदार फॉर्म को देखते हुए इंग्लैंड में खेले जा रहे विश्व कप क्रिकेट में जीत की प्रबल दावेदार है। पठान ने कहा कि कि इस विश्व कप में फार्मेट में बदलाव किया गया है। इसके तहत सभी टीमें एक दूसरे से मैच खेलेंगी। इससे मैचों का रोमांच बढ़ गया है और अच्छी क्रिकेट देखने को मिलेगी। पठान ने दीप प्रज्ज्वलित कर अकादमी का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने अपने प्रशंसकों को आटोग्राफ दिए। प्रशंसकों ने उनके साथ जमकर सेल्फी ली। उन्होंने कहा कि वह उभरते क्रिकेटरों को हरसंभव मदद मुहैया करा रहे हैं और सभी महत्वाकांक्षी एवं उदीयमान क्रिकेटरों के लिए पहली पसंद बनने की उम्मीद कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, ‘हमारी विश्व स्तरीय कोचिंग के जरिए हमारे खिलाड़ियों को जिला और राज्य स्तर के मैचों के लिए चुना जा रहा है। हमने पूरे भारत में कई और अकादमी खोलने की योजना बनाई है जिससे उभरते क्रिकेटरों को सही ढंग से प्रशिक्षित होने में मदद मिलेगी। सीएपी सही दिशा में जरूरी कदम बढ़ा रही है और उसे नई प्रतिभाओं को उन खिलाडिय़ों में तब्दील करने के लिए भी जाना जाता है जिन्हें बाद जिला व राज्य की बड़ी टीम में खेलने के लिए चुना जाता है।' उन्होंने बताया कि सीएपी मौजूदा समय में देश के सोलह शहरों में प्रतिभाओं को विकसित कर रही है जिनमें रांची, मैनपुरी, लुधियाना, दिल्ली, कोटा, पटना, मोर्बी, नोएडा, बेंगलूरु, राजकोट, सूरत, सोनीपत, पोटर् ब्लेयर और लूनावाला शामिल हैं।
उन्होंने बताया कि हाल में उनकी अकादमी के 30 क्रिकेटरों को जिला और राज्य स्तर पर खेलने के लिए चुना गया था और दो क्रिकेटरों को कोलकाता नाइट राइडर्स द्वारा इस सीजन के आईपीएल के दौरान ईडन गाडर्न में नेट सत्र में गेंदबाजी के लिए चुना गया। पठान ने बताया कि स्कॉलरशिप के लिए ट्रायल भी तेजी से चल रहा है जिसका मकसद सही संसाधनों के साथ प्रतिभाओं की मदद करना है।