डेन बोश । भारतीय पुरूष रिकर्व टीम ने नीदरलैंड को हराकर विश्व तीरंदाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में प्रवेश किया है। भारतीय टीम 14 साल के बाद खिताबी मुकाबले में पहुंची है। इससे पहले भारतीय टीम 2005 में फाइनल में पहुंची थी। फाइनल में भारतीय टीम का मुकाबला चीन से होगा। वहीं एक अन्य सेमीफाइनल में चीन ने कोरिया को 6-2 से हराया था। टोक्यो ओलंपिक 2020 का कोटा हासिल करने के एक दिन बाद ही तरूणदीप राय, अतनु दास और प्रवीण जाधव की भारतीय तिकड़ी ने शूटआफ में 29-28 से जीत दर्ज की। इस प्रकार कुल स्कोर 5-4 का रहा। वहीं भारतीय महिला कंपाउंड टीम वर्ग में शनिवार को कांस्य पदक के लिए प्लेआफ मुकाबले में तुर्की से खेलेगी। एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता ज्योति कांस्य पदक के लिये दुनिया की नंबर दो खिलाड़ी तुर्की की येसिम बोस्तान से खेलेगी। क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपै को 6-0 से हराने के बाद भारतीय पुरूष रिकर्व टीम को सेमीफाइनल में मेजबान टीम से कड़ी चुनौती मिली।भारतीय टीम दो बार मैच में पिछड़ी लेकिन राय ने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल करके मैच को शूटआफ तक पहुंचाया।