जर्मनी के दिग्गज टेनिस स्टार और पूर्व विम्बलडन चैम्पियन बोरिस बेकर आजकल आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं। यहां तक कि इस खिलाड़ी को अब अपना कर्ज़ उतारने के लिये जीती हुई बेशकीमती ट्रॉफियों को भी नीलाम करना पड़ रहा है। एक ब्रिटिश नीलामी फर्म ऑनलाइन नीलामी के ज़रिये इन ट्रॉफियों को बेचने की प्रक्रिया शुरू करेगी। सबसे कम उम्र में विंबलडन खिताब जीतने वाले बेकर को अपने समय के महान टेनिस खिलाड़ियों में शामिल किया गया था। बेकर ने 17 वर्ष की उम्र में ही तीन खिताब जीत लिए थे।  
बेकर पैसा जुटाने के लिए अपने पदक, कप, घड़ियां और फोटो सहित कुल 82 वस्तुओं की नीलामी करेंगे। यह नीलामी 11 जुलाई तक चलेगी जिसकी जानकारी नीलामीकर्ता कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर जारी की है। जर्मन स्टार की ट्रॉफियों में चैलेंज कप, तीन रेनशॉ कप की प्रतियां शामिल हैं। वर्ष 1990 में विंबलडन के फाइनलिस्ट रहने पर प्राप्त हुआ उनका पदक और वर्ष 1989 में इवान लेंडल पर मिली जीत के बाद भेंट किया गया यूएस ओपन का चांदी से बना कप भी नीलाम किया जाएगा जिसे आभूषणकर्ता टिफनी ने बनाया था।   
बेकर को वर्ष 2017 में दिवालिया घोषित कर दिया गया था। जून 2018 में हालांकि विशेष डिप्लोमैटिक दर्जा हासिल होने का हवाला देकर उन्होंने अपनी निजी संपत्ति की नीलामी रूकवा दी थी। बेकर पर लाखों पाउंड का कर्ज़ हैं और माना जा रहा है कि इस नीलामी से भी वह इसे अदा नहीं सकेंगे।