वॉशिंगटन । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को आगाह करते हुए कहा कि वह आग से खेल रहा है। गौरतलब है कि ईरान ने सोमवार को कहा कि हमारे द्वारा 2015 के परमाणु समझौते में तय सीमा से ज्यादा मात्रा में यूरेनियम का संवर्धन कर लिया है। अमेरिका द्वारा अत्याधिक दबाव बनाने के चलते यह समझौता खत्म होने की कगार पर पहुंच गया है। इस बयान के बाद ट्रंप ने ईरान को आगाह करते हुए कहा,उन्हें पता है वह क्या कर रहे हैं। उन्हें पता है वह किसके साथ खेल रहे हैं और मुझे लगता है वह आग के साथ खेल रहे हैं। ब्रिटेन ने भी तेहरान को आगे किसी भी कदम से बचने के लिए'' कहा है। ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद ने को कहा था, ईरान ने मई में घोषित अपनी योजना के आधार पर 300 किलोग्राम की सीमा पार कर ली है। इसके साथ ही उसने यह भी कहा कि वह इस कदम को वापस भी ले सकता है।
अमेरिका ने पिछले साल परमाणु समझौते से खुद को अलग कर लिया था और ईरान के महत्वपूर्ण तेल निर्यात तथा वित्तीय लेन-देन और अन्य क्षेत्रों पर सख्त प्रतिबंध फिर से लगा दिए थे। ईरान ने समझौते को बचाने के लिए इसके अन्य साझेदारों पर दबाव बढ़ाने की कोशिश के तहत आठ मई को घोषणा की थी कि वह संवर्धित यूरेनियम और भारी जल भंडार पर लगाई गई सीमा को अब नहीं मानेगा। सोमवार को प्रकाशित अपनी टिप्पणियों में जरीफ ने कहा कि ईरान ने अपनी मंशा मई में बहुत स्पष्ट तौर पर जाहिर कर दी थी। अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी ने सोमवार को पुष्टि की कि ईरान ने वह सीमा लांघ ली है जो समझौते ने उसके कम संवर्धित यूरेनियम के भंडार पर लगाई थी।