आमतौर पर माना जाता है कि कोई भी अच्छी नौकरी पाने के लिए स्नातक की डिग्री जरूरी है। इसके बाद भी कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां नौकरियां के लिए डिग्री जरुरी नहीं होती। इस क्षेत्रों में वेतन भी अच्छा खासा रहता है। इस क्षेत्रों में 15 से 20 हजार रुपये तक वेतन मिलता है जो अनुभव के साथ ही बढ़ता जाता है। इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए डिग्री की बाध्यता नहीं होती। 
मार्केटिंग 
एंट्री लेवल मार्केटिंग कर्मचारी को ग्राहकों की बातें सुनना, उनकी जरूरतों को समझना और उसके मुताबिक प्रॉडक्ट (उत्पाद) देना होता है। मार्केटिंग एक अच्छी जॉब है और इससे आपको कई तरह के अनुभव प्राप्त होते हैं। प्रॉडक्ट की जरूरत के मुताबिक यहां आपकों काम करन पड़ता है। 
औसत वेतन: 15 हजार से लेकर 20 हजार रुपये तक 
बीपीओ या कॉल सेंटर 
बीपीओ या कॉल सेंटर में ग्राहकों की कॉल अटेंड करना और उनको जवाब देना होता है।
औसत वेतन: 18 हजार से लेकर 25 हजार रुपये तक जो अनुभव के साथ ही बढ़ता जाता है। 
एडमिन या सपोर्ट स्टाफ 
ऑफिस संचालन के लिए रोजमर्रा के कई काम होते हैं। ऑफिस के लिए जरूरी सामान जुटाने से लेकर ऑफिस की साफ-सफाई तक इस दायरे में आ जाते हैं। इस तरह के कामों को करने के लिए एडमिन या सपोर्ट स्टाफ होते हैं।
औसत वेतन: 12 हजार से 15 हजार रुपये तक 
खजांची
एक खजांची का काम पैसा और ट्रांजैक्शन प्राप्त करना और उसका वितरण करना है। इसमें आम लोगों के साथ-साथ कर्मचारियों से भी लेन-देन शामिल है।
औसत वेतन: 18 हजार से लेकर 22 हजार रुपये तक 
इसके अलावा कम्पयूटर ऑपरेटर के साथ ही क्लर्क के पद के लिए भी स्नातक होना जरुरी नहीं है। आप इन क्षेत्रों में दक्ष्यता और अनुभव के आधार पर आगे बढ़ते जाते हैं।