रायपुर,। छत्तीसगढ़ के बुनकरों की कारीगरी और उनके द्वारा बनाए वस्त्रों की प्रसिद्धि दिल्ली में काफी तेजी से फैल रही है। अब तो खेल जगत से जुड़ी हस्तियाँ भी नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में लगी प्रदर्शनी में खरीदारी करने पहुँच रही है। आज रणजी क्रिकेट और हॉकी के खिलाड़ियों ने नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में दस्तक दी और यहाँ लगी छत्तीसगढ़ के बुनकरों की प्रदर्शनी में जमकर खरीददारी की।
कल जब छत्तीसगढ़ के हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी की जानकारी वेटलिफ्टिंग में ‘ओलम्पिक पदक जीतने वाली भारत की प्रथम महिला‘ कर्णम मल्लेश्वरी को मिली तो वह अपने रोक न पाई और नई दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन में लगे हस्तशिल्प और हथकरघा प्रदर्शनी को देखने पहुँच गई। यहाँ उन्होंने कोसा और हैंडलूम की कई साड़ियाँ खरीदी। उन्होंने छत्तीसगढ़ के अलग-अलग जिलांे से आए बुनकरों से बात की और इस प्रदर्शनी को और अधिक दिनों के लिए आगे बढ़ाने का आग्रह भी किया। उन्होंने कहा कि उनके कई मित्र जो खेल जगत से जुड़े है, वे अभी आ नहीं पाये है, उनकी इच्छा है कि वे इस प्रदर्शनी में आएं। कर्णम मल्लेश्वरी ने छत्तीसगढ़ भवन में लगी प्रदर्शनी पर अपने अनुभव को ट्विटर पर भी साझा किया।
रणजी ट्रॉफी दिल्ली से खेलने वाले खिलाड़ी श्री चेतन शर्मा को छत्तीसगढ़ का हेंडीक्राफ्ट काफी पसंद आया। पूर्व हॉकी खिलाड़ी सतेंद्र शर्मा ने कोसे का कुर्ता लिया और कहा की वे इसे परिवार में होने वाली शादी के अवसर पर पहनेंगे। इसके अलावा पंजाब से रणजी खिलाडी मयंक सदाना, क्रिकेटर मोहम्मद शरीक सहित अन्य खिलाड़ियों ने भी प्रदर्शनी से कोसे और हैंडीक्राफ्ट का सामान खरीदा।