इलाहाबाद  प्रयागराज ।शहर के घूरपुर थाना क्षेत्र के भेलांव गांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से रविवार दोपहर एक महिला की उपचार के दौरान स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में मौत हो गई। उधर घटना की खबर मिलते ही परिजन बदहवास हालत में स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय  पहुंचे।  हालत बिगड़ने पर परिवारवालों  ने किसी तरह नगर के स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया। विवाहिता को म्रत घोषित कर दिया और उसकी सास का इलाज जारी है । सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल के  चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया।  शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया।घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल    चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया । जबकि उसकी सांस का उपचार जारी है। 
                    घूरपुर के भेलांव गांव निवासी कमला देवी २९वर्ष पत्नी अनिल कुमार खेती करके  अपने  बेटा व बेटी सहित पूरे परिवार का भरण-पोषण करती थी। शनिवार की  देर रात पशुओं को चारा डालते समय अचानक आकाशीय बिजली गिरी । देर रात पशुओं को चारा डालते समय अचानक आकाशीय बिजली कमला देवी और उसकी सास चमेलिया ५०वर्ष पत्नी भगीरथी घायल हो गई। हादसे के बाद परिवार के लोग दोनों को तत्काल उपचार के लिए स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां उपचार के दौरान रविवार दोपहर कमला देवी की मौत हो गई। शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के भेज दिया। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल के  चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल के  चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया।  शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया।घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल    चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया।  शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा करके अन्त्य परीक्षण कराया और शव उसके परिजनों को अन्तिम संस्कार के लिए दे दिया