इलाहाबाद ।शहर के   घूरपुर थाना क्षेत्र के इरादतगंज गांव के समीप रविवार की भोर  हिस्ट्रीशीटर अपराधी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली चलने की आवाज सुन कर आस पास की दुकानो के शटर गिरने लगे ।गोली चलने की आवाज सुन कर आस पास के रहने वालो की भीड घटना स्थल पर जमा होने लगी । घटना की सूचना मिलने पर आस पास के रहने वाले और राह गीरो की भीड मौके पर जमा होने लगी उनमें से किसी ने   घटना की सूचना पुलिस कों दें दी । मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने घायल को घटना की सूचना मिलने पर आस पास के रहने वाले और गाव वालो की भीड जमा होने लगी उनमें से किसी ने घटना की पुलिस को दी घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने १०८ की मदद से घायल युवक को  लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल  में इलाज के लिये भेज दिया।  जहा पर डाक्टरों ने उसे म्रत घौषित कर दिया । सूचना पर सक्रिय हुई पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके अपराधियों की तलाश कर रही है। पुलिस के अनुसार मारा गया अपराधी ने  पूर्व सांसद के नाती को गोली मारी थी । 
                 परिवारवालों से मिली जानकारी के अनुसार  घूरपुर के बकबना गांव का रहने वाला r पीयूष शुक्ला  २६ वर्ष प्रमोद शुक्ला शनिवार की रात घर से कहीं मोटर साइकिल से गया था।  घूरपुर के इरातदतगंज गांव के समीप मोटर साइकिल सवार बदमाश पीयूष शुक्ला को गोली मारकर फरार हो गए। गोली लगते ही पीयूष शुक्ला जमीन पर गिर कर तडपने लगा । गोली की आवाज सुनकर आस-पास के लोग मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। गोली चलने की आवाज सुन कर आस पास की दुकानो के शटर गिरने लगे ।गोली चलने की आवाज सुन कर आस पास के रहने वालो की भीड घटना स्थल पर जमा होने लगी । घटना की सूचना मिलने पर आस पास के रहने वाले और राह गीरो की भीड मौके पर जमा होने लगी उनमें से किसी ने   घटना की सूचना पुलिस कों दें दी । मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने घायल को घटना की सूचना मिलने पर आस पास के रहने वाले और गाव वालो की भीड जमा होने लगी उनमें से किसी ने घटना की पुलिस को दी घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने १०८ की मदद से घायल युवक को  लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल  में इलाज के लिये भेज दिया।  जहा पर डाक्टरों ने उसे म्रत घौषित कर दिया । सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोली से घायल पीयूष शुक्ला  को उपचार के लिए तत्काल स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय पहुंचे जहां उसे चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।
                    गोली मारे जाने की सूचना  मिलने पर पीयूष शुक्ला  के परिवार के लोग भी बदहवास हालत में पहुंचे। हत्या की सूचना पर पुलिस अधीक्षक यमुनापार  समेत आलाधिकारी पहुंचे। पुलिस ने मृतक के परिजनों की तहरीर पर शैलेन्द्र तथा दो अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दिया है। पुलिस अधीक्षक यमुनापार  ने बताया कि मृतक पीयूष  शुक्ला के खिलाफ घूरपुर थाने में एक दर्जन आपराधिक मुकदमें दर्ज है। पीयूष शुक्ला  ने ही पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्त के भतीजी के बेटे को भी गोली मारी थी। हालांकि चिकित्सकों ने सांसद के नाती को बचा लिया था। उक्त वारदात के बाद से पीयूष  शुक्ला फरार चल रहा था। लेकिन पीयूष  शुक्ला  की हत्या करने वाले अपराधियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके अपराधियों की तलाश की जा रही है। शीघ्र गिरफ्तारी करी जाएगी। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल के  चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल के  चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया।  शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया।घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पर पुलिस ने शव कब्जें में लेकर इलाहाबाद शहर के स्वरुप रानी नेहरु अस्पताल    चीरघर में शव के विच्क्षेदन के लिये भेज दिया।  शव को चिकित्सकों ने अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया।   पुलिस ने शव का पंचनामा करके अन्त्य परीक्षण कराया और शव उसके परिजनों को अन्तिम संस्कार के लिए दे दिया