बिजनौर : कहते हैं कि प्यार अंधा होता है साथ ही यही प्यार बलिदान भी मांगता है. लेकिन जब इस प्यार पर लोग पहरा लगा दें तो यह रौद्र रूप ले लेता है और फिर जो भी इस प्यार के आड़े आता है. वह नेस्तनाबूद हो जाता है. ऐसा ही एक मामला बिजनौर में देखने को मिला है. जहां एक प्रेमिका ने अपने घर को इसलिए आग के हवाले कर दिया क्योंकि पति ने उसके प्रेमी से मिलने से मना कर दिया था. 

12 साल पहले हुई थी शादी
बिजनौर जनपद के हीमपुर थाना क्षेत्र के गांव पुट्ठा निवासी जरीश की शादी 12 साल पहले बिजनौर के ही बकली गांव की फिरोजा से हुई थी. फिरोजा के दो पुत्र और एक पुत्री भी है. लेकिन फिरोजा की आंखे जरीश के दोस्त अकील से लग गई. जिसको लेकर गांव में पंचायत भी हुई लेकिन फिरोजा पर तो प्यार का भूत सवार था और वो अकील के साथ रहने की जिद पर अड़ी रही. इसी बात को लेकर पति पत्नी में अनबन हो गई. 

गुस्से में घर को किया आग के हवाले
प्रेमी के प्यार में अंधी फिरोजा ने गुस्से में आकर अपने घर को आग लगा दी. जिसमें घर में रखा लाखों का सामान जलकर खाक हो गया. आग इतनी जबरदस्त थी कि उसने पड़ोसियों के घरों को भी चपेट में ले लिया और उनके घरों में रखा सामान भी आग की भेंट चढ़ गया. गनीमत रही कि इस आग से किसी की जान नहीं गई. वहीं पड़ोसियों ने घर को आग लगाने की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने पड़ोसियों की तहरीर पर मुक़दमा दर्ज कर आरोपी महिला को हिरासत में ले लिया है. और कोर्ट में पेश कर जेल भेजने की तैयारी कर रही है.

इस मामले में बिजनौर एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्र ने बताया कि महिला के आपने प्रेमी से सम्बंध है और महिला प्रेमी के पास जाना चाहती थी इसी बात को लेकर पति पत्नी में झगड़ा हो गया और महिला ने गुस्से में अपने ही घर मे आग लगा दी . इस आग से पड़ोसियों के मकान भी आग की चपेट में आ गए है. उन्होंने बताया कि फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर महिला को जेल में डाल दिया है.