जयपुर. प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) में बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress) को इस बार भी थर्ड फ्रंट की चुनौती (Third Front Challenge) मिलेगी. बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने निकाय चुनाव को लेकर अपने पत्ते खोल दिए हैं. पार्टी ने निकाय चुनाव में अपने प्रत्याशी (Candidate) उतारने का फैसला किया है. केन्द्रीय नेतृत्व (Central leadership) से इसकी अनुमति (Permission) भी ले ली गई है. पार्टी एक-दो दिन में अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा (Declaration) करेगी.

सभी वार्डों में अपने प्रत्याशी उतारने का प्रयास करेगी
बसपा के प्रदेशाध्यक्ष सुमरत सिंह का कहना है कि पार्टी सभी वार्डों में अपने प्रत्याशी उतारने का प्रयास करेगी. इस संबंध में पदाधिकारियों के साथ बैठकर मंत्रणा की जा चुकी है. इसके साथ ही कमेटियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए जा चुके हैं. पार्टी एक-दो दिन में प्रत्याशियों को टिकट वितरित कर देगी. टिकट जिला कमेटियों के माध्यम से वितरित किए जायेंगे.

पार्टी में चल रहा है बड़े स्तर पर अन्तर्विरोध


गौरतलब है कि बसपा में हाल ही में बड़े स्तर पर अन्तर्विरोध देखने को मिला है. पार्टी के सभी 6 विधायक जहां कांग्रेस के पाले में जा चुके हैं, वहीं कार्यकर्ताओं ने भी पदाधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ खुलकर मोर्चा खोल रखा है. ऐसी स्थितियों में पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के लिए जनता के बीच जाकर उन्हें अपने पक्ष में कर पाना बड़ी चुनौती होगी. लेकिन इन विपरीत स्थितियों के बावजूद पार्टी ने निकाय चुनाव मजबूती के साथ लड़ने का निर्णय लिया है.

49 निकायों में आगामी 16 नवंबर को चुनाव हैं
प्रदेश के 196 निकायों में से 49 में आगामी 16 नवंबर को चुनाव हो रहे हैं. प्रदेशभर में निकाय चुनाव 4 चरणों में होंगे. चुनाव की अधिसूचना भी जारी हो गई है. अब नामांमन भरने का कार्य चल रहा है. 5 नवंबर तक नामांकन भरे जाएंगे. 16 नवंबर को पार्षदों के लिए मतदान होगा. उसके बाद 19 नंवबर को मतगणना होगी. इन निकायों के प्रमुखों का चुनाव 26 नंवबर को होगा.
\